मैं और मेरी दुनिया

एक मुसाफिर के सफ़र जैसी है सबकी दुनिया

Wednesday, February 22, 2012

अवसान




ढला सूरज,
दिवस अवसान,
अल्प विराम !! 

हाईकू (कविता लिखने की जापानी पद्धति) शैली में

1 Comments:

At February 23, 2012 at 2:23 PM , Anonymous Anonymous said...

5 कदम देश के विकास के लिए

यह बड़े ही दुख और शर्म की बात है कि माँ दुर्गा और माँ सरस्वती का हमारा यह महान देश आज महिलाओं के लिए दुनिया का चौथा सबसे खतरनाक देश बन चुका है, इससे पहले जो देश है वो है अफ़ग़ानिस्तान और पाकिस्तान. (15. 06. 2011 के अखबारो के अनुसार). यह भी बड़े दुख की बात है कि आज हम लोग यह भूल चुके है कि क्यों हमारे देश के लोगो ने अपनी बेटियों को मारना शुर किया और क्यों हमारा देश जो कभी वैदिक युग में दुनिया में सबसे आगे हुआ करता था वही देश आज बेईमानी, भ्रष्टाचार, अपराध और हिंसा में बहुत आगे है? इन सभी सवालों का जवाब य़ह है कि तुर्की, अफ़ग़ानिस्तान और इरान से आए क्रूर और हिंसक लोगो के 800 सालो के राज में हमारा देश में सब कुछ बदल गया. कोई भी देश बिना औरतो की आजादी के विकास नही कर सकता. वैदिक युग में हमारे देश में दरबार में राजा के साथ रानी भी बैठती थी, घूघँट नाम की कोई चीज नही थी और लोग देवियों की पूजा करते थे. लेकिन बाहर से आए ये लोग औरतो की आजादी के खिलाफ थे और औरतो को परदे से बाहर नही निकलने देते थे. हमारे देश में महिलाओं का इतना सम्मान देखकर ये लोग बहुत आग बबूला हुए और इन्होने बडे पैमाने पर महिलाओं का अपहरण और बलात्कार करना शुर कर दिया. मजबूर होकर हमारे देश के लोगो ने अपनी बेटियों को पैदा होते ही मारना शुर कर दि़या और महिलाओं को घूघँट में छिपाना शुर कर दिया. बिना महिलाओं की भागीदारी के हमारा देश बहुत पीछे रह गया और भ्रष्टाचार, अपराध और हिंसा में बहुत आगे निकल गया. यह बड़े ही दुख की बात है कि आज हम लोग ये सब बाते भूल चुके है. क्या आपने कभी सोचा है कि हमारे देश में फिल्मों में, संगीत में, राजनीति में मुस्लिम आदमी तो बहुत है लेकिन मुस्लिम औरते ना के बराबर? इसका कारण यह है कि बहुत से कटटर मुस्लिम आज भी पढ़े लिखे होने के बाद भी लड़कियों को बिलकुल आजादी नही देते और उनको चेहरा या बाल ढ़ककर रखने को कहते है लेकिन खुद ना तो दाढ़ी रखते है और ना ही टोपी और ऊँचा पाजामा पहनते है. इसका सबसे बड़ा नुकसान यह होता है कि एक बिना चेहरा या बाल ढ़की हुई महिला लोगो की नजर में आकर्षण की वस्तु बन जाती है और यौन अपराध का शिकार बन जाती है. फिल्मों पर पाकिस्तानी माफिया का कब्जा होने के कारण हिंदू लड़को को तो मौका नही मिल पाता लेकिन हिंदू लड़कियों को लगभग नंगा करके दिखाया जाता है जिससे समाज में अपराध बढ़ते है. वोट के भूखे हमारे देश के महान नेताओ ने कटटर मुस्लिमो को खुश करने के लिए अलग से कानून बना रखे है जिसके तहत एक मुस्लिम आदमी बिना अदालत गए तलाक ले सकता है और एक साथ कई शादियाँ कर सकता है. आज हम सभी को यह प्रण लेना चाहिए कि हम अपना वोट उसी को देगें जो निम्नलिखित 5 कदम लेगा- 1 सभी लोगो के लिए एक जैसा कानून होना चाहिए चाहे वो हिंदू हो या मुस्लिम और एक से अधिक पतनी और दो से अधिक बच्चे होने के खिलाफ सख़्त कानून होना चाहिए. 2 चेहरा छिपाने पर प्रतिबंध होना चाहिए क्योंकि कोई भी देश महिलाओं को परदे के पीछे रखकर विकास नही कर सकता. उन मौलवियों के खिलाफ़ कङी कारवाई होनी चाहिए जो महिलाओं के खिलाफ फत़वा जारी करते है. 3 उन फिल्मों पर रोक लगाई जानी चाहिए जो पाकिस्तानी माफिया के दबाव में बन रही है और सेक्स, हिंसा और गंदी भाषा का इस्तेमाल कर रही है. 4 धारा 370 तुरंत हटनी चाहिए ताकि इस धर्मनिरपेक्ष देश में गैर मुस्लिम भी कश्मीर में रह सके. बॉर्डर की सुरक्षा बहुत सख़्त होनी चाहिए ताकि गैरकानूनी तरीके से पाकिस्तान और बांग्लादेश के मुस्लिम भारत ना आ सके. भारत दुनिया का एकमात्र देश है जहाँ के नेता मुस्लिम वोट पाने के लिए हज्ञ पर करोडो रुपयों की सब्सिडी देते है. 5 सभी क्षेत्रो में विशेषकर परिवहन और पुलिस में अधिक से अधिक महिलाओं की भर्ती होनी चाहिए ताकि कामकाजी महिलाओं की संख्या बढ़ सके और महिलाओं के प्रति अपराध में कमी आ सके.
इस पेज की फोटोकॉपी दूसरों को भी दे ताकि यह सोता हुआ देश जाग सके.

 

Post a Comment

Subscribe to Post Comments [Atom]

Links to this post:

Create a Link

<< Home